Untitled

महादेव ।

ना समझ उसकी महिमा वो तेरी समझ के पार है। तू जान सका है उसे ये झूठा तुझे खुमार है। मोक्ष का वो सार है। मृत्यु का वो द्वार है। वो कालों का भी काल है । वो मेरा महाकाल है। वो बस्ता है हर कण में। वो गुज़रे हर क्षण में। वो पंच भूतों का नाथ है। वो हमेशा रेहता सब के साथ है। वो मेरी तन्हाई है, वो ही मेरी परछाईं है। जो लड़ता हूं हर रोज़ में खुद से वो ही मेरी ये लड़ाई है। भोला सा चेहरा है, गंगा जटाओं से बहती है। ये दुनिया सारी, इन्हीं की छाया में रहती है। वो जानता है सब इस दुनिया के बारे में, लोगों के झूठे सहारे थे, और कुछ मतलबी ही तुम्हारे थे। हर - हर महादेव का ये नारा है , अब बस ये ही इकलौता सहारा है। अरे कुछ नहीं बिगाड़ पाया ज़माना उसका जो कोई भी इनकी शरण में आया है। ये मेरा महादेव है, ये ही मेरा भूतनाथ है। ये ही मेरा शिवाय है, ये ही मेरा सोमनाथ है ।।

-कर्मण्या शर्मा ।।


#harharmahadev 🖤

13 views0 comments

Recent Posts

See All

रोक ना मुझको खुद से बात करने से । अपने एहसासों को तो मुझे जताने दे ।। तुझसे करके बात कोई बेढंगी सी । मेरे इश्क़ की खबर तो तुझे बताने दे ।। वो जो कहतें हैं कि हर एक लड़का कमी